rajya sabha

rajya sabha

राज्य सभा या स्टेट ऑफ काउंसिल

rajya sabha संविधान के  अनुसार राज्य सभा को द्वितीय सदन भी कहते हैं, और राज्यसभा का अन्य नाम उच्च सदन भी हैI राज्यसभा में ज्यादा से ज्यादा 250 सदस्य होते हैं, इन 250 सदस्यों में 238 सदस्य राज्य और संघ क्षेत्रों के अप्रत्यक्ष रूप से निर्वाचित प्रतिनिधि होते हैंI  लेकिन बचे हुए 12 सदस्य राष्ट्रपति अपनी मर्जी से नाम अंकित करता है, यह सदस्य कला, विज्ञान, शांति और सामाजिक सेवा के क्षेत्र में बहुत अधिक ज्ञान और अनुभव रखते हैंI  राज्यसभा में प्रतिनिधि का आधार राज्य की जनसंख्या होती हैI जो राज्य ज्यादा जनसंख्या वाले होते हैं राज्यसभा में उन राज्यों का प्रतिनिधित्व ज्यादा होता हैI

rajya sabha  राज्य सभा कभी भंग नहीं की जा सकती लेकिन हर 2 साल के बाद उसके एक तिहाई सदस्यों की सदस्यता समाप्त हो जाती हैI  और इसी प्रकार हर 2 साल में उनकी जगह नए सदस्य ले लेते हैंI इस प्रकार हम कह सकते हैं कि राज्यसभा एक स्थाई सदन हैI  राज्यसभा के सदस्यों का निर्वाचन राज्य की विधानसभा में निर्वाचित सदस्यों द्वारा आनुपातिक प्रतिनिधित्व पद्धति के अनुसार एकल संक्रमणीय मत द्वारा होता हैI  इसके लिए उन सभी योग्यता ओं का होना आवश्यक है योग्यताएं संसद सदस्य बनने के लिए जरूरी होती हैI

  1. मौलिक कार्तवीय
  2. राज्य के नीति निदेशक सिद्धांत
  3. हमें कौन कौन से मौलिक अधिकार प्राप्त हैं
  4. राज्य पुनर्गठन आयोग

rajya sabha

 इस प्रकार हम कह सकते हैं कि राज्यसभा को एक स्थाई संस्था बनाकर हमारे संविधान निर्माताओं ने अपनी दूरदर्शिता का परिचय दिया हैI  जैसा कि अभी हमने पढ़ा कि राज्यसभा के एक तिहाई सदस्य और 2 वर्ष में पद रिक्त करते हैं और उनकी जगह नए सदस्य उनका स्थान लेते हैं,  प्रकार राज्यसभा में समय-समय पर नया रक्त संचार होता रहता है हमेशा नए सदस्य राज्यसभा में बने रहते हैंI उन्हें सजा हमेशा राज्यसभा में बने रहने से संसद भवन को यह फायदा मिलता है कि यह सभा हमेशा सामाजिक समस्याओं के करीब रहती हैI  इस प्रकार सदन में हमेशा नवीनता बनी रहती हैI

यह भी अवश्य पढ़ें

  1. sansad bhawan
  2. Fundamental duties in hindi
  3. ग्राम पंचायत
  4. मौलिक कार्तवीय
  5. राज्य के नीति निदेशक सिद्धांत
  6. हमें कौन कौन से मौलिक अधिकार प्राप्त हैं
  7. राज्य पुनर्गठन आयोग
  8. नागरिकता क्या है और नागरिकता ग्रहण करना क्यों अनिवार्य है
  9. नागरिकता कैसे ली जाती है
  10. नागरिकता कैसे समाप्त हो सकती है अथवा छीनी जा सकती है
  11. नागरिकता अधिनियम 1955 सिटीजनशिप एक्ट 1955
  12. भारतीय संविधान की प्रस्तावना
  13. संघ और परिसंघ के बीच क्या अंतर होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *